Hindi Kavita
भक्त सूरदास
Bhakt Surdas
 Hindi Kavita 

सूर सुखसागर-भक्त सूरदास जी

विनय तथा भक्ति

विनय तथा भक्ति

गोकुल लीला

कृष्ण-जन्म
शैशव-चरित
बालगोपाल
माखन-चोरी

वृंदावन लीला

वृंदावन प्रस्थान
गोदोहन
गो-चारण
काली-दमन
मुरली
कमरी
चीर-हरन
गोवर्द्धनधारण
रास लीला
पनघट लीला
दान लीला
गोपिका अनुराग
रूप-वर्णन
नेत्र अनुराग

राधा-कृष्ण

प्रथम मिलन
गारुड़ी कृष्ण
संबंध रहस्य
राधा-सखी संवाद
माता की सीख
कृष्ण दर्शन
राधा का अनुराग
उपहास
सहसा भेंट
व्याज मिलन
भ्रम
एकनिष्ठा
लघुमान लीला
कृष्ण गोपिका
मान लीला
खंडिता प्रकरण
मध्यम मान
बड़ी मान लीला
वसंतोत्सव

मथुरा गमन

अक्रूर ब्रज आगमन
मथुरा प्रयाण
मथुरा प्रवेश तथा कंस बध
नंद का ब्रज प्रत्यागमन
गोपी बचन तथा ब्रजदशा
गोपी विरह

उद्धव संदेश

उद्धव को ब्रज भेजना
तीन पाती तथा संदेश
उद्धव ब्रज आगमन
उद्धव का गोपियों को पाती देना
भ्रमर गीत
उद्धव-गोपी संवाद
उद्धव हृदय परिवर्तन तथा गोपी सन्देश
पूर्ण परिवर्तन तथा यशोदा संदेश
उद्धव मथुरा प्रत्यागमन तथा कृष्ण उद्धव संवाद
श्रीकृष्ण वचन

द्वारिका चरित

द्वारिका प्रमाण
रुक्मिणी परिणय
बलभद्र ब्रज यात्रा
सुदामा चरित
ब्रजनारी पथिक संवाद
रुक्मिणी कृष्ण संवाद
कुरुक्षेत्र में कृष्ण-ब्रजवासी भेंट
राधा कृष्ण मिलन
 
 
 Hindi Kavita