Hindi Kavita
रामधारी सिंह दिनकर
Ramdhari Singh Dinkar
 Hindi Kavita 

Samanantar Ramdhari Singh Dinkar

समानांतर में 'सीपी और शंख' और
'आत्मा की आँखें' की कविताएं शामिल हैं

सीपी और शंख

. झील
. वातायन
. समुद्र का पानी
. नाम
. कवि और प्रेमी
. तुम सड़क पर जा रहे थे
. काढ़ लो दोनों नयन मेरे
. क्या करोगे देवा जिस दिन मैं मरूँगा?
. जान सकता हूँ अगर साहस करूं
. समानांतर
. समाधान
. वेदना का रसायन
. रूपान्तरण
. सुख
. आधा चाँद
. ज्योतिषी
. वेनिस
. नामांकन
. मनुष्य की कृतियाँ

आत्मा की आँखें

. प्रार्थना
. एकान्त
. अकेलेपन का आनन्द
. उखड़े हुए लोग
. देवता हैं नहीं
. महल-अटारी
. शैतान का पतन
. ईश्वर की देह
. निराकार ईश्वर
 
 
 Hindi Kavita