Hindi Kavita
अयोध्यासिंह उपाध्याय 'हरिऔध'
Ayodhya Singh Upadhyay ‘Hariaudh'
 Hindi Kavita 

Chubhte Chaupade Ayodhya Singh Upadhyay ‘Hariaudh'

चुभते चौपदे अयोध्यासिंह उपाध्याय 'हरिऔध'

देवदेव चौपदे
सच्चे देवते
साहसी
सच्चे वीर
हमारे सूरमे
आनबानवाले
याद
ललक
कचट
क्या से क्या
क्या थे क्या हो गये
चेतावनी
सजीवन जड़ी
बूते की बात
सूझ बूझ
पते की बातें
सुधार की बातें
भाग
मेल जोल
सबल निबल
दिल के फफोले
अपने दुखड़े
जी की कचट
समय का फेर
फटकार
लानतान
बढ़ावा
कोर कसर
फूट
भारी भूल
एका की कमी
बेताबी
बेबसी
छूतछात
हमारे मनचले
सिरधारे या सिरफिरे
ढोंगिये
हमारे साधू संत
कसौटी
परख
वे और हम
पोल
ईसवी पंजा
ताली
वोट
चालाक लोग
चार जाति
चार नाते
हमारी देवियाँ
निघरघट
बेवायें
नापाकपन
बेटियाँ
बेजोड़ ब्याह
बूढ़े का ब्याह
कच्चे फल
लथेड़
लताड़
लोकसेवा
जातिसेवा
धर्म
धर्म की धाक
धर्म की धुन
धर्म का बल
धर्म का कमाल
धर्म की करामात
छतुका
निकम्मापन
सच्चे काम करने वाले
ढाढस
 
 
 Hindi Kavita