Hindi Kavita
अयोध्यासिंह उपाध्याय 'हरिऔध'
Ayodhya Singh Upadhyay ‘Hariaudh'
 Hindi Kavita 

Chokhe Chaupade Ayodhya Singh Upadhyay ‘Hariaudh'

चोखे चौपदे अयोध्यासिंह उपाध्याय 'हरिऔध'

प्रेमबंधन
माँ की ममता
कवि
प्यार के पुतले
अनूठी बातें
सुनहली सीख
अछूते फूल
रस के छींटे
नोक-झोंक
दृष्टान्त
बाल
चोटी
सिर और पगड़ी
सिर और सेहरा
सिर और पाँव
सिर
माथा
तिलक
आँख
आँसू
नाक
कान
गाल
मुँह
दाँत
जीभ
होठ
हँसी
दम
छींक
मूँछ
दाढ़ी
गला
कंठ
गाना, गला, कंठ
हथेली
उँगली
मूठी
हाथ
छाती
पेट
तलवा
बात की करामात
अनूठे विचार
पते की बातें
भेद की बातें
आनबान
प्यार के पहलू
निवेदन
मन
कुछ कलेजे
कलेजा कमाल
कसौटी
हाथ और दान
हाथ और कमल
हाथ और फूल
हाथ और तलवार
जी की कचट
थपेड़े
निघरघट
मुँहचोर
हमारे मालदार
निराले लोग
मोह
पेट के पचड़े
बेचारा बाप
निराली धुन
खरी बातें
बसंत बहार
बसंत के पौधे
बसंत की बेलि
बसंत के फूल
बसंत बयार
कोयल
बसंत के भौंरे
हम और तुम
 
 
 Hindi Kavita