इन्दीवर
Indeevar
 Hindi Kavita 

इंदीवर

श्यामलाल बाबू राय इन्दीवर (1 जनवरी 1924-27 फरवरी 1997) हिन्दी के प्रमुख गीतकार थे। उनका जन्म ग्राम धम्मा, झांसी, (उत्तर प्रदेश) में हुआ था। वह गीतकार बनने के लिए मुंबई में आ गए थे। यहां उन्होंने सफ़लता की ऊंचाईयों को छुआ और 300 से अधिक फ़िल्मों में 1000 से भी अधिक गाने लिखे। उनकी कलम से हर मिज़ाज के स्वर निकले। 1976 में अमानुष फ़िल्म के "दिल ऐसा किसी ने मेरा तोड़ा" गीत को फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ गीतकार का पुरस्कार मिला ।

इंदीवर हिन्दी गीत

मेरे देश की धरती
है प्रीत जहाँ की रीत सदा
दुल्हन चली, ओ पहन चली, तीन रंग की चोली
छोड़ दे सारी दुनिया किसी के लिए
ओहरे ताल मिले नदी के जल में
नदिया चले चले रे धारा
चंदन सा बदन चंचल चितवन
वक़्त करता जो वफ़ा आप हमारे होते
फूल तुम्हें भेजा है ख़त में
मुझे नहीं पूछनी तुमसे बीती बातें
कोई जब तुम्हारा हृदय तोड़ दे
जो तुमको हो पसंद, वही बात करेंगे
हम छोड़ चले हैं महफ़िल को
मैं तो भूल चली बाबुल का देस
होंठों से छू लो तुम, मेरा गीत अमर कर दो
ज़िंदगी का सफ़र है ये कैसा सफ़र
दिल ऐसा किसी ने मेरा तोड़ा
मेरी प्यारी बहनिया बनेगी दुल्हनिया
कसमे वादे प्यार वफ़ा सब
वो खेत में मिलेगा, खलिहान में मिलेगा
एक तू जो मिला, सारी दुनिया मिली
तेरे होंठों के दो फूल प्यारे प्यारे
ओ बाबुल प्यारे
जिस दिल में बसा था प्यार तेरा
हम तुम्हे चाहते हैं ऐसे
 
 
 Hindi Kavita